U.P Madhyamic Shiksha Parishad

U.P Madhyamic Shiksha Parishad Information Site

सफलता की सीढ़ी पर चढ़े इलाहाबादी

Date :8/10/2015 12:44:58 AM
यूपी बोर्ड काबंपर रिजल्ट इलाहाबाद के लिए दोहरी खुशी लेकर आया है. हाईस्कूल में इस बार प्रदेश के 7भ् जनपदों में इलाहाबाद क्म्वें व इंटरमीडिएट के रिजल्ट में ख्9वें स्थान पर रहा है. लास्ट इयर स्टेट की सूची में इलाहाबाद का स्थान हाईस्कूल में म्म् वां जबकि इंटरमीडिएट में ब्8वां था. माना जा रहा है कि दोनों ही सूची में सबसे अंत में 7भ्वें स्थान पर काबिज कौशाम्बी जनपद को परीक्षा के दौरान नकलमंडी सजाने की सजा दी गई है.
 
7भ्वें स्थान पर रहा कौशाम्बी
इस बार हाईस्कूल में इलाहाबाद का पासिंग परसंटेज 87.ब्ब् फीसदी रहा है.
7भ् डिस्ट्रिक्स की जिलेवार सूची में इलाहाबाद को क्म्वां स्थान हासिल हुआ है. इलाहाबाद से ऊपर 9ब्.ब्9 फीसदी अंकों के साथ आजमगढ़ सबसे टॉप पर है. जबकि, कौशाम्बी म्क्.0म् फीसदी उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ सबसे अंत में है. वहीं इस सूची में दूसरे नम्बर पर 9फ्.0क् प्रतिशत के साथ बलिया तथा तीसरे नम्बर पर 9क्.88 फीसदी उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ मऊ जिला है. परीक्षा में इलाहाबाद से कुल क्,ख्9,ब्भ्ब् परीक्षार्थी पंजीकृत थे. इसमें से क्,09,ब्9ख् परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे. इनमें से 9भ्,7फ्8 परीक्षार्थियों को सफलता हासिल हुई है.
 
यहां जालौन रहा टॉप पर
वहीं इंटरमीडिएट में इलाहाबाद का पासिंग परसंटेज 9ख्.79 फीसदी रहा है.
यहां 7भ् डिस्ट्रिक्ट्स की जिलेवार सूची में इलाहाबाद को ख्9वां स्थान हासिल हुआ है. इलाहाबाद से ऊपर 9म्.ख्फ् फीसदी अंकों के साथ जालौन सबसे टॉप पर है. जबकि, कौशाम्बी भ्फ्.9म् फीसदी उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ सबसे अंत में है. सूची में दूसरे नम्बर पर 9म्.क्म् प्रतिशत के साथ शामली तथा तीसरे नम्बर पर 9भ्.म्ख् फीसदी उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ औरया जिला है. इस परीक्षा में इलाहाबाद से कुल क्,क्7,भ्7म् परीक्षार्थी पंजीकृत थे. इसमें से क्,0ब्,म्ख्म् परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे. इनमें से 97,08ब् परीक्षार्थियों को सफलता हासिल हुई है.
.................. Read More

UP Board Results 2015 High School, Madhyamik Shiksha Parishad Exam Results 2015 to be announced today at 12:30 PM

Date :8/10/2015 12:38:03 AM

Uttar Pradesh Board (UP Board) will announce the UP Board 10th Result (High School Result) today at 12:30 PM

All the 34,98,430 students who were awaiting UP Board 10th Class Results 2015 will breathe a sigh of relief once the UP Board High School Results 2015.

About the Uttar Pradesh (UP) Board

As per the official website of the board (upmsp.nic.in), 'the UP Board was set up in the year 1921 at Allahabad by an act of United Provinces Legislative Council. It conducted its first examination in 1923. This Board is one in India which, from the very start, had adopted 10+2 system of examination. The first public examination after 10 years education is High School Examination and after the 10+2 stage, there is Intermediate Examination. Prior to 1923, University of Allahabad was the examining body of these two examinations.'

This is the first time when the UP Board is going to announce the UP Board Results 2015 both the UP Board 10th Class Results 2015​ and UP Board Inter Results 2015 on the same date.

 

.................. Read More

हाईस्कूल में वैशाली को मिली बड़ी सफलता

Date :8/10/2015 12:27:33 AM
ऐसा पहली बार हो रहा था, जब यूपी बोर्ड ने एक ही दिन अपने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के एग्जाम के रिजल्ट एक साथ जारी कर दिये. एक ओर जहां इंटरमीडिएट के रिजल्ट में लखनऊ पब्लिक स्कूल के स्टूडेंट्स ने स्टेट के टॉप थ्री प्लेस के साथ राजधानी के टॉप सिक्स्थ प्लेस पर अपना कब्जा जमाया. तो वहीं हाईस्कूल के रिजल्ट में भी इसी स्कूल के छात्र-छात्राओं ने टॉप फाइव प्लेस में भी जगह बनाने में कामयाब रहे.
 
हाईस्कूल में वैशाली रही सिटी टॉपर
 
इस बार हाईस्कूल के रिजल्ट में लखनऊ पब्लिक स्कूल की वैशाली सिंह ने 9ब्.म्म् परसेंट के साथ राजधानी में फ‌र्स्ट प्लेस हासिल किया. तो वहीं सेकेंड प्लेस पर 9ब्.क् परसेंट के साथ अवध कॉलिजिएट की अपर्णा शुक्ला रहीं. जबकि थर्ड प्लेस में एक बार फिर से 9ब् परसेंट के साथ लखनऊ पब्लिक स्कूल के क्षितिज जायसवाल रहे. वहीं फोर्थ प्लेस पर लखनऊ पायनियर मॉन्टेसरी स्कूल के 9फ्.म्म् परसेंट के साथ यशराज शर्मा रहे. वहीं फिफ्थ प्लेस पर एसकेडी एकेडमी के राहुल कुमार वर्मा ने 9फ्.क्7 परसेंट प्राप्त किया.
 
बोर्ड का डर हो रहा खत्म
 
इंटरमीडिएट व हाईस्कूल का रिजल्ट पिछले दो सालों की तरह इस साल भी काफी बेहतर रहा है. हालांकि इसमें थोड़ी गिरावट जरूर देखी गई है. एक टाइम था, जब स्टूडेंट्स के बीच यूपी बोर्ड किसी बडे़ एग्जाम से कम नहीं कहा जाता था. लेकिन बोर्ड का बदला पैटर्न और मूल्याकंन प्रणाली में हुए चेंज की वजह से बोर्ड की दहशत स्टूडेंट्स में कम हो गई है.
 
कई स्कूलों का रिजल्ट रहा परफेक्ट
इस बार यूपी बोर्ड के हाईस्कूल का रिजल्ट न केवल स्टूडेंट्स के लिए खुशी लेकर आया है, बल्कि कई स्कूलों के लिए बेहतर रिजल्ट लेकर आया है. राजधानी के अवध कॉलिजिएट, एसकेडी एकेडमी, एलपीएस, सेंट मिराज, सेंट जोजफ इंटर कॉलेज और क्रिएटिव कांवेंट जैसे स्कूलों में सभी स्टूडेंट्स पास हो गए हैं. इन स्कूलों का रिजल्ट भी शत प्रतिशत रहा है.
 
चार साल में सबसे कम परसेंट रहा
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम इस साल पहली बार फरवरी मंथ में आयोजित हुआ था. यूपी बोर्ड के एग्जाम क्9 फरवरी से शुरू हुआ था. जो ख्0 मार्च तक आयोजित किया गया था. जबकि कॉपियों के मूल्यांकन का काम फ्0 मार्च से क्फ् अप्रैल तक आयोजित किया गया था. इस बार राजधानी में हाईस्कूल के एग्जाम में भ्778ख् स्टूडेंट्स शामिल हुए थे.
 इस साल हाईस्कूल में स्टेट का ओवर ऑल रिजल्ट 8फ्.म्ब् स्टूडेंट्स सफल रहे है. जबकि राजधानी में यह आकड़ा 8क्.8म् फीसदी ही रहा है. यह पिछले चार सालों का सबसे कम पास प्रतिशत रहा है. ख्0क्ब् में 8ब्.क्0 फीसदी स्टूडेंट्स सफल हुए थे. वहीं ख्0क्फ् में यह 8म्.फ्0 प्रतिशत और ख्0क्ख् में 8म्.7ब् फीसदी दर्ज की गई थी. जानकार इस गिरावट के लिए नकल माफियाओं पर नकेल कसने का असर दिख रहा है. क्वींस इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. आरपी मिश्रा ने बताया कि इस साल एग्जाम में नकल माफिया को रोकने के लिए उठाए गए कदम के कारण ऐसा रिजल्ट देखने को मिला है.
इंटरमीडिएट के बाद हाईस्कूल में इस तरह के रिजल्ट वाकई अच्छे हैं और आगे परिणाम और बेहतर मिलेंगे इसकी उम्मीद है.
.................. Read More

Copyright © 2014 Madhyamic Shiksha Board